महिला शक्ति के इस्पाती इरादों से पूरा होगा देश का आर्थिक सपना : प्रधान

देश के आर्थिक तरक्की की बागडोर महिलाओं के हाथ : प्रधान

नई दिल्ली। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर केंद्रीय पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस तथा इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने पेट्रोलियम एवं महिला कर्मचारियों से आह्वान किया है कि वह अपनी क्षमता से अपने मार्ग पर आने वाली चुनौतियों को पराजित करें. उन्होंने किसी भी प्रकार का भेदभाव स्वीकार्य नहीं किया जाना चाहिए. पत्र के जरिए उन्होंने कहा कि भारतीय महिलाएं इस्पाती इरादों से हर काम में श्रेष्ठता हासिल करती रही हैं, जिसकी वजह से दुनिया भर में उनके सेवा भाव का अनुकरण किया जाता है.

जोखिम भरी जिम्मेदारियों को निभा रहीं महिलाएं

इस मौके पर केंद्रीय मंत्री ने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि पेट्रोलियम और गैस रिफाइनरी के दौरों के दौरान उन्होंने प्रत्यक्ष रूप से देखा है कि किस तरह महिलाएं अत्यंत जोखिम भरे स्थितियों में भी काम करती हैं. श्री प्रधान ने महिला कर्मचारियों को लिखे पत्र में कहा कि 100 MTPA स्टील उत्पादन का लक्ष्य हासिल करना हो या फिर ऊर्जा का न्याय हो, महिला कर्मचारियों ने देश की आर्थिक तरक्की को नई ऊंचाई दी है.

पीएम के अभियान से जुड़ने की अपील

केंद्रीय मंत्री ने पत्र के जरिए महिला कर्मचारियों से प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश की महिलाओं की प्रेरक कहानियों और उपलब्धियों से जुड़े अनुभवों को #sheinspiresus अभियान के जरिए आगे बढ़ाने की अपील भी की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here