दिल्ली में भूखे-प्यासे लोगों के लिए कांग्रेस ने खोली ‘रसोई’

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार कांग्रेस की रसोई में खाना बनाते हुए

नई दिल्ली। कोरोना संकट (लॉकडाउन) के दौरान कांग्रेस की दिल्ली यूनिट एक राजनीतिक दल नहीं बल्कि सामाजिक संगठन की भूमिका में काम कर रही है. क्योंकि यहां दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार की पहल पर आओ हाथ बढ़ायें कार्यक्रम के तहत ‘कांग्रेस की रसोई’ कार्यक्रम शुरू किया गया है. जिसमें ऐसे इलाकों में यमुना खादर जैसे उन इलाकों में भी भोजन पहुंचाने का काम किया जा रहा है, जहां अमूमन सरकार की मशीनरी भी नहीं पहुंच पा रही है. चौधरी अनिल कुमार ने बताया कि पूरी दिल्ली  के 14 जिलों में तकरीबन 168  जगह पर “कांग्रेस की रसोई” में  पका हुआ पौष्टिक खाना तथा  कच्चा समान जैसें- आटा,  दाल, चावल इत्यादि बांटा जा रहा है,

केजरीवाल पर आरोप लगाए

चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि दिल्ली सरकार जो गेहूं बाट रही है उसकी जगह आटा दिया जाये क्योंकि आटा पिसवाने के लिए बहुत कम चक्कीयां है जिस वजह से लोगों को आटा पिसवाने में बहुत परेशानी हो रही है. चौधरी अनिल कुमार ने कहा कि कांग्रेस कार्यकर्ता दिल्ली में तकरीबन 50  हजार लोगों को खाना खिला कर दिल्ली कि केरजीवाल सरकार, बीजेपी एवं आप पार्टी को आईना दिखाने का काम कर रहे हैं क्योंकि इस संकट की घड़ी में जब दिल्ली सरकार लोगो को अध पका और घटिया क्वालिटी का खाना खिलाकर कर अपनी पीठ थप थपाने का काम कर रही है वंही दिल्ली कांग्रेस के कार्यकर्ता लोगो को स्वच्छ व पौष्टिक खाना खिलाने का काम कर रहे हैं.

स्कूल की फीस माफ करने की मांग

चौधरी अनिल कुमार ने अपनी मांग दोहराते हुऐ कहा कि पूरे दिल्लीवासियों की तीन महीने की बिजली और पानी भी माफ की जाए. इसी प्रकार प्राइवेट स्कूलो में विद्यार्थियों के तीन महीने की फीस भी माफ करने की मांग को भी दोहराया क्योंकि लॉक डाउन में लोगों के काम धन्धे भी नहीं चल पा रहें हैं.

इसे भी पढ़ें : पीएम को भेजे गए सोनिया के 5 सुझाव आपकी जेब पर असर डालेंगे…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here